UPHIN/2016/71934

कोरोना वायरस (COVID-19) कभी भी विदा नहीं हो सकता.. WHO

जेनेवा। कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर में बरपा हुआ है। हर देश अपने-अपने स्तर से इस घातक वायरस से लड़ाई लड़ रहा है। इसके बावजूद भी कोविड-19 का संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। दुनिया भर में बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के कार्यकारी निदेशक माइकल जे रयान ने बुधवार (13 मई) को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस (COVID-19) कभी भी विदा नहीं हो सकता है और इसकी एचआईवी संक्रमण की तरह रहने की उम्मीद है।

सीएएन की रिपोर्ट की मुताबिक, रयान ने कहा कि यह वायरस हमारे समुदायों के बीच में एक और कभी न खत्म होने वाला वायरस बन सकता है। जिस तरह से एचआईवी वायरस खत्म नहीं हुआ है। आगे उन्होंने कहा कि वह दो बीमारियों की तुलना नहीं कर रहे हैं, लेकिन उन्हें लगता है कि यह महत्वपूर्ण है कि वह यथार्थवादी हैं। कोई भी भविष्यवाणी कर सकता है कि यह बीमारी कब खत्म होगी या फिर नहीं भी होगी।

लॉकडाउन हटाने पर क्या बोला WHO

उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना वायरस की वजह से लगाए गए प्रतिबंध को उस समय हटा रहे हैं जब पॉजिटिव मामले ज्यादा सामने आ रहे हैं तो वायरस के फैलने की दोबारा अधिक संभावना बढ़ जाती है, जिसके कारण फिर से लॉकडाउन करना पड़ सकता है। अगर रोजाना मामलों की संख्या में गिरावट आ रही है तो आप प्रतिबंध में ढील दे कर सकते हैं। इससे संक्रमण के फैलने का जोखिम कम रहेगा।

WHO ने कहा था कि प्रभावी टीके की पड़ेगी जरूरत

इससे पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन कह चुका है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से पूरी तरह रोकने के लिए सुरक्षित और प्रभावी टीके की जरूरत होगी। वह बता चुका है कि दुनियाभर में लोगों के जुड़ाव से कोविड-19 के फिर से आने और फैलने का खतरा है। इस संक्रमण को फैलने से पूरी तरह रोकने के लिए एक सुरक्षित और प्रभावी टीके की जरूरत पड़ेगी।

डब्ल्यूएचओ को ‘चीन के हाथों की कठपुतली’ बता चुके हैं ट्रंप

वहीं, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप डब्ल्यूएचओ को “चीन के हाथों की कठपुतली” बता चुके हैं। ट्रंप विश्व स्वास्थ्य संगठन से काफी नाराज चल रहे हैं। ट्रंप ने कोरोना वायरस फैलने में डब्ल्यूएचओ की भूमिका की जांच शुरू की है और संगठन पर महामारी के दौरान चीन का पक्ष लेने का आरोप लगाया है। जांच लंबित रहने तक राष्ट्रपति ने डब्ल्यूएचओ को अमेरिका से दी जाने वाली सहायता भी रोक दी है। यह जांच चीन की भूमिका देखेगी और साथ में यह भी पता लगाएगी कि कोरोना वायरस चीन के वुहान शहर में कैसे फैला।

WHO ने दिए कोरोना मामलों के आंकड़े

डब्लूएचओ के अनुसार, दुनियाभर में अबतक कोरोना वायरस के कुल 41 लाख, 70 हजार, 424 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, मरने वालों की संख्या 2 लाख, 87 हजार, 399 हो गई है। डब्ल्यूएचओ ने 11 मार्च को कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया था और यह 21 जनवरी से संक्रमण की दैनिक स्थिति पर रिपोर्ट दे रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x

COVID-19

India
Confirmed: 8,040,203Deaths: 120,010
error: Content is protected !!
WhatsApp chat