UPHIN/2016/71934

जिंदगी व मौत के बीच नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन, हालत बिगड़ी, ब्रेन डेड होने की आशंका

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन गंभीर रूप से बीमार हैं। उनकी हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है। अमेरिकी मीडिया में किम जोंग उन के ब्रेन डेड होने की भी अटकलें तेज हो गई हैं। मंगलवार को एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका को खुफिया जानकारी में पता चला है कि उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन सर्जरी के बाद गंभीर खतरे से गुजर रहे हैं। बताया जा रहा है कि उनका कार्डियोवस्कुलर की वजह से इलाज चल रहा था। रिपोर्ट के मुताबिक किम जोंग उन की सर्जरी की गई थी, मगर इसके बाद उनकी हालत और भी ज्यादा बिगड़ गई है। इसी के साथ उनके ब्रेन डेड होने की ही बात सामने आई है।रिपोर्ट के मुताबिक तानाशाह किम जोंग उन का प्योंगयांग के बाहर हयांगसान के एक विला में इलाज चल रहा है। किम जोंग उन को लेकर अटकलें और तेज उस वक्त हो गई जब वह देश के स्थापना दिवस और अपने स्वर्गीय दादा के 108वें जन्‍मदिन पर होने वाले कार्यक्रम में भी 15 अप्रैल को दिखाई नहीं दिए थे।डेली एनके ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि तानाशाह किम जोंग की तबीयत बीते कुछ महीनों में ज्यादा खराब हुई है। इसकी वजह है कि बहुत ज्‍यादा स्‍मोकिंग, मोटापे की बीमारी है और ज्यादा काम। बताया जा रहा है कि किम जोंग उन को आखिरी बार सार्वजनिक तौर पर 11 अप्रैल को देखा गया था। जिसमें उन्होंने एक बैठक की अध्यक्षता की थी और कोरोना वायरस को लेकर सख्त जांच के आदेश दिए थे। इतना ही नहीं, वह 14 अप्रैल को मिसाइल के परीक्षण के कार्यक्रम से भी नदारद थे।बता दें कि अपने पिता और दिवंगत नेता किम जोंग-इल की 2011 के आखिर में मृत्यु हो जाने के बाद किम जोंग उन ने उत्तर कोरिया की सत्ता पर काबिज हुए थे।

एक अमेरिकी चैनल ने दावा किया उत्‍तर कोरिया का सनकी किंग तानाशाह किम जोंग उन इन दिनों जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं। चैनल के अनुसार किम जोंग उन गंभीर रूप से बीमार हैं और उनकी जान खतरे में है। अमेरिकी टीवी चैनल सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक किम जों का कार्डीओवैस्क्यलर ( की वजह से इलाज चल रहा था। उनकी सर्जरी की गई लेकिन इसके बाद उनकी हालत और बिगड़ गई है। एक अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि किम जोंग उन की जान खतरे में है। सीएनएन के मुताबिक किम जोंग की तबीयत पिछले कई महीने से खराब चल रही थी।किम जोंग उन बहुत ज्‍यादा स्‍मोकिंग करते हैं और उन्‍हें मोटापे की भी बीमारी है। किम जोंग उन को 11 अप्रैल को अंतिम बार देखा गया था। यही नहीं किम जोंग अपने अपने दादा के जन्‍मदिन पर होने वाले कार्यक्रम में भी 15 अप्रैल को दिखाई नहीं दिए थे। बताया जा रहा है कि किम जोंग उन इन दिनों का हयांगसान कस्‍बे के एक विला में इलाज चल रहा है। किम के ब्रेन डेड होने की खबरों पर अभी अमेरिकी अधिकारियों ने कोई टिप्‍पणी नहीं दी है। उधर, खुफिया रिपोर्टो के मुताबिक उत्‍तर कोरिया से सही सूचनाओं का आना बहुत मुश्किल है। किम जोंग उन की उत्‍तर कोरिया में किसी भगवान की तरह से पूजा होती है, इसलिए बहुत मुश्किल से सूचनाएं आ रही हैं।

किम जोंग उन के सामने नहीं आने पर विशेषज्ञों को यह भरोसा नहीं हो रहा था कि वह अपने दादा के जन्‍म पर होने वाले उत्‍सव से क्‍यों लापता हैं। इससे पहले अगर ऐसे मौकों पर उत्‍तर कोरियाई शासक दिखाई नहीं देते थे तो माना जाता था कि कुछ बड़ा हुआ है। उत्‍तर कोरियाई मामलों के विशेषज्ञ ब्रूस क्‍लींगर ने कहा, ‘पिछले काफी समय से किम के स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर बहुत सी अफवाहें उड़ रही थीं। अगर वह अस्‍पताल में हैं तो यह बताता है कि क्‍यों वह 15 अप्रैल के जश्‍न में शामिल नहीं थे।’ब्रूस कहते हैं कि इससे पहले भी किम जोंग उन या उनके पिता के बारे में कई फर्जी सूचनाएं सामने आ चुकी हैं। हमें अभी इंतजार करना होगा। इससे पहले वर्ष 2008 में किम जोंग उन के पिता किम जोंग द्वितीय के उत्‍तर कोरिया के 60 साल पूरे होने पर आयोजित जश्‍न में दिखाई नहीं दिए थे तो अटकलें बढ़ गई थीं। बाद में यह खुलाया हुआ कि किम जोंग द्वितीय को दिल का दौरा पड़ा था। इसके बाद से उनका स्‍वास्‍थ्‍य खराब होता गया और वर्ष 2011 में उनकी मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x

COVID-19

India
Confirmed: 8,040,203Deaths: 120,010
error: Content is protected !!
WhatsApp chat