UPHIN/2016/71934

लॉक डाउन के बीच वरदान साबित हो रही एम्बुलेंस सेवा

मुजफ्फरनगर। true स्टोरी
(रविता)लॉकडाउन में जहां हर कोई घरों में रहने को मजबूर है,वहीं किसी भी मरीज को अस्पताल आने या अस्पताल से जाने में तकलीफ न हो इसके लिए एम्बुलेंस कर्मचारी दिन रात एक किए हुये हैं। मुज़फ्फरनगर में 108/102/ ALS एम्बुलेंस जिला प्रभारी राजेश रंजन ने बताया वर्तमान में जनपद में लोगों के लिए 108, 102 और ए.एल.एस सेवा निशुल्क उपलब्ध है। जिले में अभी हमारे पास 60 एम्बुलेंस हैं। जो 24 घंटे लोगों की सेवा के तत्पर है । जिला मुजफ्फरनगर के प्रोग्राम मैनेजर सन्नी सिंह ने बताया कि जिला मुजफ्फरनगर के एम्बुलेंस कर्मचारी की टीम लोगों की सेवा के लिए युद्धस्तर पर अपनी सेवाएं दे रही है।लॉक डाउन में बेहतर एम्बुलेंस सेवा से जहां कोरोना के प्रकोप से बचने में मदद मिल रही है वहीं हार्ट अटैक या एक्सिडेंट समेत अन्य आपातकालीन समस्यों से निपटने में लोगों की हर संभव मदद की जा रही है। उन्होने कहा कि यह हमारे लिए गर्व की बात है हमारे सभी कर्मचारी स्वेच्छा से एक योद्धा के रूप में सेवाएं दे रहे हैं। इसके लिए सभी कर्मचारी बधाई के पात्र है। उन्होने बताया कि वायरस कोविड-19 के प्रोटोकाल के मुताबिक फील्ड में जाने वाले एम्बुलेंस कर्मचारी कोविड-19 के प्रोटोकाल को पूरी तरह फालो कर रहे हैं।

सचमुच के योद्धा है एम्बुलेंस कर्मी

प्रोग्राम मैनेजर सन्नी सिंह बताते है कि कोरोना के प्रभाव की शुरुआत के साथ पहले डर लग रहा था, लेकिन अब कोई डर नहीं लगता है। हम सभी यहां 24 घंटे कार्य कर रहे हैं। ऐसे कठिन समय में हमें लोगों की मदद करने का मौका मिला है यह हमारे लिए एक सौभाग्य की बात है।

x

COVID-19

India
Confirmed: 8,040,203Deaths: 120,010
error: Content is protected !!
WhatsApp chat