UPHIN/2016/71934

जोश जो उम्र पर भारी है, जयंत की पंचायत से चर्चा में आए सौदान सिंह

(काज़ी अमजद अली)
मुज़फ्फरनगर।
कहते है अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता किन्तु चींटी कब हाथी पर भारी पड़ जाये ये समय ही जानता है।किसानों के संघर्ष की भूमि माने जाने वाले जनपद मुज़फ्फरनगर में भोपा क्षेत्र 1989 में भाकियू के प्रभावी आंदोलन में अपनी उपस्थिति तीन दशक पहले ही दर्ज करा चुका है । सोशल मीडिया के दौर में अब भोपा क्षेत्र के नन्हेड़ा निवासी किसान सौदान सिंह वायरल वीडियो से धूम मचाये हुवे हैं। वायरल वीडियो के ज़रिये सौदान सिंह क्षेत्र के चहेते किसान नेता के रूप में पहचान स्थापित कर रहे हैं। उनकी शोहरत का एक उदाहरण उस समय दिखाई पड़ा जब 15 अक्तूबर की शाम गाँव छछरौली में उनका स्वागत ढ़ोल नगाडों के साथ किया गया।
काज़ी अमजद अली के साथ चौधरी सौदान सिंह का एक साक्षात्कार :

उम्र के तीसरे पडाव से गुजर रहे चौ. सौदान सिंह की त्यौरियां चढी हुई है। सौदान सिंह की आस्था किसान मसीहा माने जाने वाले स्व. चौधरी चरण सिंह के परिवार से जुडी हे। हाथरस में जयन्त चौधरी के साथ हुए व्यवहार को लेकर चौधरी सौदान सिंह का आक्रोश तथा किसानों की समस्याओं को लेकर उनके संघर्ष का जज्बा युवाओं के लिए प्रेरणा साबित हो रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो ने उन्हें शोहरत दिला दी है। चौ. सौदान सिंह की दिलेरी व हिम्मत को सैल्यूट करनेवालों का तांता उनके घर पर लगा हुआ है।

मुज़फ्फरनगर ज़िले के मोरना ब्लॉक क्षेत्र के ग्राम नन्हेडा निवासी चौ. सौदान सिंह पिछले एक सप्ताह से लगातार चर्चाओं में हैं। मुजफ्फरनगर में आयोजित लोकदल बचाओ रैली के बाद उनकी एक वीडियो वायरल हुई, जिसमें चौ0 सौदान सिंह देहाती अंदाज में रोष प्रकट कर रहे हैं। चौ. सौदान सिंह के समर्पण भाव से प्रभावित हुए जयन्त चौधरी ने उनसे भेंट की तथा उनकी इच्छाशक्ति का सम्मान किया। चौ. सौदान सिंह गांव के प्रतिष्ठित किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उनके स्व. पिता श्यामसिंह भी जाने माने किसान नेता रहे हैं। पिता के संघर्ष व विचारों से प्रेरणा पाकर चौ. सौदान सिंह भी किसानों की समस्याओं को लेकर अपना तन मन धन समर्पित किए हुए हैं। क्षेत्र में आयोजित होने वाली किसान पंचायतों में अपनी उपस्थिति को अनिवार्य समझने वाले सौदान सिंह का हृदय उस समय द्रवित हो उठा जब हाथरस जा रहे रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयन्त चौधरी पर प्रशासन द्वारा लाठी चार्ज किया गया। स्व. चौधरी चरण सिंह के पौत्र जयन्त चौधरी पर अकारण ही पुलिस द्वारा जानलेवा हमला करने से सौदान सिंह बुरी तरह आहत है। चौ. सौदान सिंह बताते हैं कि चौधरी साहब के परिवार के संघर्ष तथा बाबा टिकैत के संघर्ष के कारण ही किसान अपने पैरों पर खडा हो सका है। प्रत्येक किसान दोनों योद्धाओं का ऋणी है। आज भी चौधरी साहब का परिवार किसानों के साथ खडा है। किसी कारण भटक चुके किसानों को फिर एकजुट होना होगा तथा जयंत चौधरी के नेतृत्व में अपनी लडाई को लडना होगा। अन्यथा किसान की हालत बद से बदतर हो जायेगी।
जयंत चौधरी को मुख्यमंत्री देखना है सपना:-
चौ0 सौदान सिंह रालोद नेता जयन्त चौधरी को मुख्यमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं। उनका कहना है कि प्रदेश की अर्थव्यवस्था खेती पर टिकी है तो फिर प्रदेश का मुख्यमंत्री भी किसान परिवार तथा किसानों की पार्टी से ही होना चाहिए।
प्रदेश व केन्द्र सरकार के खिलाफ बजाएंगे बिगुल-
चौ0 सौदान सिंह किसानों की समस्याओं का जिम्मेदार केन्द्र की मोदी सरकार व प्रदेश की योगी सरकार को बताते हैं। सरकारों पर किसानों के साथ छल करने के आरोप लगाते हुए इस बार सरकार बदल देने का दावा करते हैं।पति के साथ पत्नी भी है हमकदम:
चौ. सौदान सिंह के परिवार में पत्नी सुमन व दो बेटे सन्दीप व आनन्दवीर है। पत्नी सुमन का मायका सहारनपुर के प्रतिष्ठित किसान परिवार से है। सुमन चौधरी पति सौदान सिंह के संघर्ष में उनके साथ है। सुमन ताई ने बताया कि उन्हें गर्व है कि उनके पति सामाजिक कार्यों के प्रति समर्पित हैं। उनका परिवार किसानों की लडाई में हमेशा आगे रहा है। वह किसानों के किसी भी संषर्घ में अपने पति के साथ हैं।

पुलिस के डंडे का जवाब देगी किसान की लाठी-
चौ. सौदान सिंह अपने रोष को वाजिब बताते हुए कहते हैं कि हाथरस की घटना से पूरा गांव नन्हेडा ही नहीं क्षेत्र भी आहत तथा आक्रोशित है। अब अगर किसानों पर प्रशासन का डंडा चला तो किसान भी लाठी रखते हैं। जो किसान अपनी मेहनत से जनता को अन्न प्रदान करता है। उसी अन्नदाता पर डंडे पडेंगे तो किसान भी खामोश नहीं रहेगा। अपने हितों के लिए आवाज उठाना कोई अपराध नहीं है। प्रशासन को डंडा ही चलाना है तो बलात्कारियों तथा भ्रष्टाचारियों पर चलाए। अन्नदाता पर डंडे पडेंगे तो भगवान भी माफ नहीं करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x

COVID-19

India
Confirmed: 8,040,203Deaths: 120,010
error: Content is protected !!
WhatsApp chat