अपना मुज़फ्फरनगर

कैम्प लगाकर ग्रामीणों को किया गया ‘वित्तीय साक्षर’

चांद समद में बचत के साथ-साथ सामाजिक सुरक्षा के लिए भी जागरूक रहने का किया आह्वान

ग्रामीणों ने की क्षेत्र में एटीएम लगवाये जाने व बीसी की लिमिट बढ़ाये जाने की मांग


मुजफ्फरनगरः मनीवाईज वित्तीय साक्षरता केन्द्र व पंजाब नेशनल बैंक द्वारा चांद समद गांव में वित्तीय साक्षरता कैम्प लगाकर लोगों को जागरूक किया। इस दौरान बचत, बजट बनाना, बैंकिंग फ्रॉड, निवेश व सामाजिक सुरक्षा, केसीसी व गोल्डन कार्ड की ग्रामीणों को जानकारी दी गई।
गुरूवार को खतौली ब्लॉक के ग्राम चांद समद में आयोजित कैम्प को संबोधित करते हुए पीएनबी के एएफएलसी अनिल गर्ग ने कहा कि आजकल डिजीटल का जमाना है, ऐसे में डिजीटल बैंकिंग अपनाना हम सभी के लिए जरूरी हो गया है। उन्होंने डिजीटल बैंकिंग के फायदे बताते हुए कहा कि डिजीटल बैंकिंग के जरिये बैंक में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है और पैसे भी साथ लेकर नहीं जाने पड़ते। केवल मोबाइल से ही सारे काम हो जाते हैं। उन्होंने डिजीटल बैंकिंग के दौरान सुरक्षा बरतने का भी आह्वान किया। उन्होंने कहा कि अपने एटीएम का पिन व सीवीवी किसी को न बतायें और न ही लालच में आकर अपनी गोपनीय जानकारी किसी को दें।
मनीवाईज सीएफएल खतौली की प्रबन्धक शीजा खानम ने वित्तीय साक्षरता की परिभाषा बताते हुए कहा कि वित्तीय साक्षरता में बचत, निवेश व सामाजिक सुरक्षा आती है, जो इन तीनों विषयों को अच्छी तरीके से समझ जाता है वह पूर्ण रूप से वित्तीय साक्षर हो जाता है और उसकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार होने लगता है। उन्होंने कहा कि अपनी आमदनी के अनुरूप ऐसा बजट बनाना चाहिए, जिससे आमदनी का कम से कम दस प्रतिशत बच सके और इस बचत का निवेश भी करना चाहिए, ताकि इसमें इजाफा होता रहे। उन्होंने कहा कि सामाजिक सुरक्षा के मद्देनजर सभी को बीमा व पेन्शन प्लान अवश्य लेने चाहिएं, ताकि कोई मुसीबत आने पर उसका परिवार ज्यादा प्रभावित न हो सके। उन्होंने सरकार द्वारा चलाई जा रही सुकन्या समृद्धि योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना व प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, अटल पेन्शन योजना, एनपीवाई, श्रमजीवी कार्ड आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए इनका लाभ उठाने का भी आश्रन किया।
कैम्प को संबोधित करते हुए पीएनबी खतौली के ब्रांच मैनेजर अनिरूद्ध शर्मा ने कहा कि केसीसी कार्ड तो सभी किसानों द्वारा लिये ही जाते हैं साथ ही अब बैंक ऐसे किसानों को अतिरिक्त 40 हजार रूपये बीघा का गोल्डन कार्ड बनाकर दे सकता है, जिनके केसीसी कार्ड का लेनदेन अच्छा चल रहा है। उन्होंने बताया कि जमीन खरीदने के लिए भी बैंक लोन देता है, यह ऐसे किसानों को मिल सकता है, जिनके पास जमीन होनी जरूरी है और यह जमीन 15 बीघा से कम होनी चाहिए। इसके अलावा पशु पालकों को भी पशुओं के चारे व इन्फ्रास्टेकृेक्चर के लिए लोन दिया जाता है। इस दौरान ग्रामीणों ने योजनाओं से संबन्धित अपने सवाल रखे। कैम्प में दौरान बैंक मित्र अमित कुमार, समरीन अलवी, शिव कुमार, जबर सिंह, धर्मपाल, श्यामलाल, सत्यपाल, राजेन्द्र सिंह, महाराज सिंह आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।

TRUE STORY

TRUE STORY is a Newspaper, Website and web news channal brings the Latest News & Breaking News Headlines from India & around the World. Read Latest News Today on Sports, Business, Health & Fitness, Bollywood & Entertainment, Blogs & Opinions from leading columnists...

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!