एक ही मंडप में गूंजे वैदिक मंत्र व कुरान की आयतें

बुलंदशहर (शब्बीर अहमद सैफी): मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत शुक्रवार को नुमाइश के पंडाल में 180 जोड़ों का विवाह रीति-रिवाजों से धूमधाम के साथ संपन्न कराया गया। इसमें 142 जोड़े हिंदू और 38 जोड़े मुस्लिम थे। जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार, सिकन्द्राबाद विधायिका तथा अन्य जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में शादी समारोह संपन्न कराया गया। सामूहिक विवाह में आए अथितियों ने वर-वधु को आशीर्वाद देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।
शुक्रवार को बुलंदशहर के नुमाइश ग्राउंड में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत 180 जोड़ों को विवाह संपन्न कराया गया। मुख्यमंत्री सामूहिक योजना के अंतर्गत गरीब बेटियों के विवाह कराए जाते हैं तथा विवाह का सारा खर्चा जिला प्रशासन उठाता है। जिला प्रशासन की ओर से सभी जोड़ों को जरुरत का सामान दिया गया तथा वधु के खाते में 35 हजार रूपये की धनराशि भेजी गयी। जानकारी के मुताबिक एक विवाह में करीब 51 हजार रूपये खर्च होते है। जिसका वहां जिला प्रशासन करता है। शुक्रवार को एक ही पंडाल में हिन्दू-मुस्लिम जोड़ों का विवाह पूरे रीति-रिवाज के साथ संपन्न कराया गया। जिला प्रशासन के मुताबिक कोरोना के चलते वर-वधु के कुछ ही परिजनों को विवाह में आमंत्रित किया गया था। ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके। जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने स्वयं जाकर स्थिति का जायजा लिया तथा नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद देकर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

error: Content is protected !!