आशिकी के फेर में मारी थी गोली, 4 दिन में हमलावर सलाखों के पीछे किये पुलिस ने

अहमद हुसैन
मेरठ के सरधना थाना पुलिस को उस वक्त एक बड़ी कामयाबी मिली जब भरे बाजार युवक को गोली मारने वाले दो हमलावरों को पुलिस ने अवैध तमंचा और कारतूस सहित गिरफ्तार कर लिया। गौरतलब है कि नगर में 4 दिन पूर्व बाइक सवार दो हमलावरों द्वारा राजा कुरैशी को गोली मारकर घायल कर दिया गया था। इस संबंध में राजा की मां द्वारा अज्ञात हमलावरों के खिलाफ थाने में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की गई थी। जिस पर थाना प्रभारी समर बहादुर सिंह ने तत्परता से काम काम लेते हुए लगभग आधा दर्जन युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी, पुलिस द्वारा मामले की जांच करने के बाद दो युवकों को हत्या में प्रयुक्त तमंचे व कारतूस के साथ पकड़ा गया । जिन्होंने पूछताछ में अपना गुनाह कुबूल किया है । गोली मारने के पीछे एक लड़की से दोनों का दोस्ती का मामला सामने आया है । पुलिस ने दोनों युवकों को जेल भेज दिया है।इधर घायल युवक राजा का चार दिन बाद भी आपरेशन नहीं हो सका है। बेहद गरीबी में गुजारा करने वाले राजा के उपचार के लिए कुछ लोग समाज से सहयोग करते नजर आ रहे है ।
गौरतलब है कि गत गुरुवार को सरधना नगर के मोहल्ला सराय भटियारी निवासी राजा पुत्र मरहूम यासीन कुरैशी को तहसील रोड पर बाइक से आए दो हमलावरों ने उसके सिर में सटाकर गोली मार दी थी। मौके पर हमलावरों द्वारा छोड़ी गई बाइक और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने कुछ संदिग्धों को उठाकर पूछताछ की जिसके बाद पुलिस ने दो युवकों को पकड़ा और उनसे पूछताछ की जिन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया। सीओ सरधना आर पी शाही ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि थाना प्रभारी समर बहादुर सिंह चौकी प्रभारी रतीभान सिंह अपनी टीम के साथ मामले की जांच में लगे हुए थे । तभी सामने आया की उमेर पुत्र शहाबुद्दीन निवासी नवाबगढ़ी व सलमान पुत्र शान अली निवासी नगला रोड सरधना ने राजा कुरैशी को गोली मारी है। पुलिस टीम ने दोनों युवकों को पकड़ लिया, जिनसे पूछताछ की गई पूछताछ में दोनों ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया। बताया गया कि उमेर की मोहल्ला आजादनगर की एक युवती से दोस्ती थी । उसी युवती से राजा कुरैशी भी बात करता था इसी बात को लेकर उमेर उससे रंजिश रखने लगा और उमेर ने अपने साथी सलमान के साथ मिलकर राजा कुरैशी को गोली मारी थी । पुलिस ने उमेर के कब्जे से एक तमंचा 315 बोर एक आदत जिंदा कारतूस 315 बोर व खोखा कारतूस 315 बोर बरामद किया है तथा जानलेवा हमले एवं आर्म्स एक्ट का अभियोग पंजीकृत करने के बाद सलमान व उमेर को न्यायालय के समक्ष पेश किया जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया है। वहीं दुखद स्थिति यह है कि गुरुवार से अब तक चार दिन बीतने के बाद भी राजा का आपरेशन नहीं हो सका है।

अहमद हुसैन
True story

TRUE STORY

खबर नही, बल्कि खबर के पीछे क्या रहा?

http://www.truestory.co.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 72 = 77

error: Content is protected !!