एजुकेशन

अल-असारा तहरीक तालीम ने किया मेधावी छात्र छात्राओं का सम्मान


मुजफ्फरनगर में अल-असारा तहरीक तालीम के जेरे अहतमाम ग्राम तावली के सहारा पब्लिक जूनियर हाई स्कूल में एक प्रोग्राम मुनअक्किद हुआ।

जिसकी सदारत मौलाना मुन्शाद साहब ने और निजामत कारी हबीब व तहसीन अली असारवी ने मुश्तर्का तौर पर की। प्रोग्राम में मेहमान खुसूसी के तौर पर कलीम त्यागी, मास्टर शहजाद व चौधरी युसुफ ने शिरकत की ।

प्रोग्राम के कन्वीनर मास्टर कुतबुदीन रहे। प्रोग्राम में मेहमान खुसूसी के हाथो मास्टर चौधरी इरफ़ान असारवी की किताब ” दरीचा ए इस्लाम” का इजरा किया गया। इसके अलावा अल असारा तहरीक तालीम की जानिब से मुनअक्किद चौधरी बहावल बख्श इनामी मुकाबले में प्रथम, द्वितीय, व तृतीय स्थान पाने वाले छात्र-छात्राओं को बिजली के पन्खे, प्रेस, व टोर्च तथा सर्टिफिकेट देकरयसम्मानित किया गया। इनके अलावा पांच बच्चों को इम्तियाजी नम्बर हासिल करने पर उन्हें इनाम से नवाजा गया। प्रोग्राम में शिरकत करने आये हाजी चौधरी आसिम ने बच्चों को नकद इनाम देकर उनका होसला अफजाई की। इस के अतिरिक्त तावली के चौ0 इदरीस के लडके पहलवान आफताब को भी मुजफ्फरनगर व कौम का नाम अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर रौशन करने पर उसको भी सम्मानित किया गया। इसके मौके पर चौ0 हाफ़िज़ इसहाक साहब का उनकी तालीमी खिदमात पर साल उढा कर सम्मानित किया गया। तमाम मुकर्ररिर हजरात ने लड़कियों की तालीम पर बल दिया। इस मौके पर तहसीन अली असारवी ने कहा कि तालीम के बिना हम तरक्की नहीं कर सकते। कामयाबी के सारे रास्ते तालीम से ही खुलते हैं।उन्होंने कहा कि इस दौर में लड़कियों की तालीम पर खासतौर से तवज्जो देने की जरूरत है। प्रोग्राम में मुख्य रूप से चौ0 डा0यूसुफ़, मौलाना मुनशाद, मास्टर नूर हसन, हाकिम अली, चौ0इदरीस, चौ0 मास्टर उस्मान, मास्टर खालिद कलीम त्यागी, मास्टर शहजाद

TRUE STORY

खबर नही, बल्कि खबर के पीछे क्या रहा?

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Open chat